कोटपूतली : मास्टर प्लान मामला, नगर परिषद रविवार को फिर करेगी कार्रवाई

कोटपूतली : मास्टर प्लान मामला, नगर परिषद रविवार को फिर करेगी कार्रवाई

न्यूज चक्र, कोटपूतली। शहर के अग्रसेन तिराहे पर नगर परिषद की ओर से रविवार सुबह फिर से कार्रवाई शुरू की जाएगी। प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक मास्टर प्लान मार्ग में बाधक जिन 68 प्रतिष्ठानों या संरचनाओं को नोटिस दिया गया था, उनमें से कुछ संरचनाएं अभी पूरी तरह से हटाई नहीं जा सकी हैं। जिसके चलते रविवार को भी शहर में यातायात व्यवस्था पूर्व की भांति ही रहेगी। प्रशासन की ओर से अभी बैरिकेड या अवरोधक नहीं हटाए गए हैं। वैसे शहर की फिजा आज बदली- बदली सी है, कोटपूतली अग्रसेन तिराहे की तस्वीर अब बदल चुकी है। व्यापारी वर्ग उदास है, लेकिन आम जनता खुशी जाहिर कर रही है। नगर परिषद व प्रशासन ने आज मास्टर प्लान के तहत सड़कों के विस्तारीकरण को लेकर कार्यवाही की है, और पुरानी नगरपालिका भवन के समीप अग्रसेन तिराहे के तीनों तरफ के प्रतिष्ठानों को ध्वस्त कर दिया है।

रक्षाबंधन पर्व से ठीक पहले हुई इस कार्यवाही से जहां एक तरफ व्यापारी वर्ग नाराज है वही आमजन सड़क के विस्तारीकरण हो जाने से खुश नजर आ रहा है। आज नगर परिषद ने प्रथम चरण की शुरुआत में सवेरे 3:00 बजे नगर परिषद कार्यालय खोला। उसके बाद सभी कर्मचारी नगर परिषद कार्यालय में उपस्थित हुए और फिर सुबह 5:00 बजे नगर परिषद के अधिकारी पुलिस प्रशासन के भारी लवाजमें के साथ मास्टर प्लान में बाधा बन रही संरचनाओं को ध्वस्त करने निकल पड़े। आपको बता दें कि नगर परिषद मास्टर प्लान के तहत मुख्य चौराहे से अग्रसेन तिराहे तक सड़क का विस्तारीकरण करना चाह रही है और जिसके लिए अब इस मार्ग को 80 फीट किया जाना है, जिसके लिए नगर परिषद ने चार टीमें गठित की थी।

गठित टीमों ने पूर्व नियोजित योजना स्वरूप नगर पालिका पार्क, अग्रसेन तिराहे और नेहरू बाजार में एक साथ कार्यवाही की। हालांकि इस दौरान लगातार व्यापारी वर्ग का विरोध देखने को मिला। यहां तक की सुबह जब कार्यवाही शुरू हुई तो एक बार माहौल इतना गरमा गया कि भाजपा नेता मुकेश गोयल, एडवोकेट बजरंग शर्मा, मनोज नारायण शर्मा, भाजपा नेता सुभाष ghoghar को हिरासत में ले लिया गया। जानकारी के अनुसार आधा दर्जन नेताओं को इस कार्रवाई के दौरान हिरासत में रखा गया। इस दौरान एसटीएफ, आरएसी व करीब ढाई सौ पुलिस जवानों के साथ प्रशासन ने 68 संरचनाओं को ध्वस्त किया।

नगर परिषद आयुक्त फतेह सिंह मीणा ने जानकारी देते हुए बताया कि यह प्रथम चरण की कार्यवाही थी अगली कार्रवाई स्वतंत्रता दिवस के बाद की जाएगी। साथ ही तीसरे चरण में ऑक्शन की गई प्रॉपर्टीज पर निर्णय लेते हुए कार्रवाई की जाएगी। वही एडीएम जगदीश आर्य ने बताया कि इस दौरान विद्युत व्यवस्था प्रभावित हुई है जिसे शीघ्र ही दुरुस्त करने के निर्देश दे दिए गए हैं। एडीएम ने आमजन व व्यापारियों को प्रशासन का सहयोग करने के लिए धन्यवाद भी दिया।


आपको बता दें कि पूरी कार्यवाही के दौरान कोटपूतली एडीएम जगदीश आर्य, एसडीएम आईएएस ऋषभ मंडल, तहसीलदार सूर्यकांत शर्मा, एएसपी विद्या प्रकाश, सुमित गुप्ता, डीवाईएसपी डॉ. संध्या यादव, कोटपूतली थाना अधिकारी सवाई सिंह सहित आठ थानों का पुलिस जाब्ता व थानाधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

कोटपूतली जयपुर समाचार राजस्थान समाचार